Download Our App

Follow us

Home » Dance » कथक नृत्यांगना टीना ताम्बे को “मध्यप्रदेश रत्न” पुरस्कार

कथक नृत्यांगना टीना ताम्बे को “मध्यप्रदेश रत्न” पुरस्कार

मध्यप्रदेश के पूर्णकालिक पत्रकारों की संस्था मध्यप्रदेश प्रेस क्लब का वार्षिक कार्यक्रम ‘मप्र रत्न अलंकरण’ समारोह मध्यप्रदेश के पूर्णकालिक पत्रकारों की संस्था मध्यप्रदेश प्रेस क्लब का वार्षिक कार्यक्रम ‘मप्र रत्न अलंकरण’ समारोह दिनांक 25 अप्रेल को संपन्न् हुआ। समारोह में समाज के विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट योगदान देने वाली नौ विभूतियों एवं 10 प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया। भोपाल के कुशाभाऊ ठाकरे कन्वेंशन सेंटर, पुरानी विधानसभा में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश के राज्यपाल मंगूभाई पटेल ने यह अलंकरण प्रदान किए। इस अवसर पर श्री 1008 धर्मेंद्र पुरी जी महाराज (महामंडलेश्वर जूना अखाड़ा गादीपति केवेडेश्वर मठ, ओमकारेश्वर धाम) का पावन सान्निध्य प्राप्त प्राप्त हुआ।

कार्यक्रम में सुप्रसिद्ध पत्रकार पद्मश्री आलोक मेहता, परम विशिष्ट सेवा मेडल प्राप्त पूर्व एयर मार्शल प्रदीप पद्माकर बापट, फिल्मकार रूमी ज़ाफरी, उद्योगपति संजीव सरन, लघुफिल्म निर्माता देवेन्द्र खंडेलवाल, पत्रकार एवं सुपरिचित कवि डॉ. सुधीर सक्सेना, ख्यातिप्राप्त कथक नृत्यांगना डॉ. टीना देवले -ताम्बे, रंगकर्मी लोकेन्द्र त्रिवेदी तथा वरिष्ठ समाजसेवी और डबरा में रह कर सहरिया जनजाति के बच्चों की शिक्षा में जुटे श्री निर्मलदास नारंग को ‘मप्र रत्न अलंकरण’ प्रदान किया गया।.

इस अवसर पर “रत्न पुरस्कार” से अलंकृत कथक नृत्यांगना डॉ. टीना देवले -ताम्बे मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में जन्मी और पली-बढ़ी है। उन्होंने स्थानीय देवी अहिल्या विश्वविद्यालय से कथक में विशेष योग्यता के साथ एम.ए. किया तथा विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन से उन्हें डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त हुई है। साथ ही उन्होंने कई राज्य एवं राष्ट्रीय प्रतियोगिताएं में देवी अहिल्या विश्वविद्यालय का प्रतिनिधित्व करते हुए कई पुरस्कार प्राप्त किये।  कई प्रतिष्ठित राष्ट्रीय एवं अंतराष्ट्रीय नृत्य समारोहों में अपनी प्रस्तुति दे चुकी दूरदर्शन की ए -ग्रेड कलाकार डॉ टीना ताम्बे नृत्य के क्षेत्र में एक बड़ा नाम है तथा वे वर्तमान में मुंबई में कई विद्यार्थियों को नृत्य प्रशिक्षण भी दे रहीं है

मध्य प्रदेश रत्न से सम्मानित विभूतियाँ महामहिम राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल, श्री 1008 धर्मेंद्र पुरी जी महाराज तथा मध्य प्रदेश प्रेस क्लब के अध्यक्ष डॉ. नवीन आनंद जोशी के साथ

दो सत्रों में हुए इस कार्यक्रम मे दूसरे चरण में मध्यप्रदेश के विकास पर सम्मानित विभूतियों से सीधा संवाद भी किया गया।

इस अवसर पर मुख्यअतिथि राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कहा  कि नई पीढ़ी को आज़ादी के संघर्ष, उसमें जीवन का बलिदान देने वाले चंद्रशेखर आजाद जैसे अनेक वीर-वीरांगनाओं के संबंध में जानकारी देने, मातृ-भूमि के प्रति कर्तव्य बोध का एहसास कराने में पत्रकारिता की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण रही है।

राज्यपाल श्री पटेल ने  आगे कहा कि सम्मानित सभी विभूतियां देश और समाज का गौरव हैं। उनको सम्मानित कर स्वयं देश-समाज गौरवान्वित हुआ है। इसके पूर्व राज्यपाल ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।  इस अवसर पर  प्रेस क्लब द्वारा राज्यपाल का शॉल, श्रीफल और प्रतीक-चिन्ह भेंट कर सम्मान किया गया। स्वागत उद्बोधन  में अध्यक्ष डॉ. नवीन आनंद जोशी ने प्रेस क्लब की विकास यात्रा और आयोजन के उद्देश्य पर प्रकाश डाला। आभार प्रदर्शन महासचिव  रेखा पटेल ने किया।

इन प्रतिभाओं का हुआ सम्मान

साहित्य एवं कला के क्षेत्र से डॉ. लक्ष्मी शर्मा, होम्योपैथी चिकित्सा से डॉ. ए.के. द्विवेदी, मानसिक चिकित्सा क्षेत्र से डॉ. वैभव चतुर्वेदी, चिकित्सा एवं चिकित्सा शिक्षा क्षेत्र से डॉ. ममता सिंह, श्री सुरेश सिंह भदौरिया, डॉ. दीप्ति सिंह हाड़ा, शिक्षा-उद्योग एवं कृषि क्षेत्र से डॉ. डेविश जैन, शिक्षा के क्षेत्र से श्रीमती हरनीत कौर राना, उच्च शिक्षा के क्षेत्र से श्री अवधेश दवे, उद्योग एवं व्यापार से श्री राजकुमार साबू, गणित शिक्षा के क्षेत्र से इंजी. अमित ओझा, समाज सेवी श्री मनोज नंदकिशोर पांचाल को अलंकृत किया।

Leave a Comment

7k network
error: Content is protected !!